यूएसए और रूस ने सीरिया में युद्ध समाप्ति समझौता की घोषणा की

संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस ने 22 फ़रवरी 2016 को सीरिया में युद्ध समाप्ति पर सहमति की घोषणा की. यह समझौता 27 फ़रवरी 2016 से प्रभावी होगा.

  • समझौता की घोषणा अंतर्राष्ट्रीय सीरिया सहायता समूह (आईएसएसजी) के सीजफायर कार्यदल के सह अध्यक्ष अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी और रूस के विदेश मंत्री सेर्गेई लावरोव द्वारा की गयी.
  • समझौते के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय सीरिया सहायता समूह “प्रक्रियाओं को विकसित करने” की दिशा में काम करेगा, यह भी सुनिश्चित करेगा कि रूसी सशस्त्र बल या अमेरिका-नीत गठबंधन समझौते से सहमत दोनों देश हवाई हमले न करें.
  • संघर्ष विराम समझौता में तथाकथित इस्लामिक स्टेट इराक और सीरिया (आईएसआईएस) और अल-कायदा से जुड़े नुसरा फ्रंट शामिल नहीं हैं, इसलिए सीरिया, रूस और अमेरिका के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार द्वारा आईएसआईएस, नुसरा और अन्य आतंकवादी संगठनों के खिलाफ हवाई हमलों को संयुक्त राष्ट्र जारी रखेगा.
  • संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने समझौते का स्वागत किया है. उन्होंने कहा है कि अगर सम्बंधित देश समझौते का सम्मान करते हैं तो सुरक्षा परिषद के संकल्प 2254 (2015) के क्रियान्वयन में यह एक महत्वपूर्ण कदम होगा.
  • संकल्प 2254, राजनीतिक संक्रमण के मामले में मध्यस्थता करने, नया संविधान और चुनाव के लिए, विरोधी पक्षों के बीच समझौता कराकर संघर्ष विराम हेतु संयुक्त राष्ट्र की भूमिका को अधिक प्रभावशाली बना देता है.
  • मार्च 2011 में शुरू हुए संघर्ष में अब तक 2 लाख 50 हजार से अधिक सीरियाई मारे गए हैं.
  • इस बीच सीरिया की सरकार ने राष्ट्रपति बशर अल असद के नेतृत्व में 13 अप्रैल 2016 संसदीय चुनाव कराने की घोषणा की है. सीरिया के प्रत्येक प्रांत में संसदीय चुनाव के लिए सीट आवंटन के लिए है राष्ट्रपति असद ने डिक्री, जारी की है. इससे पहले सीरिया में मई 2012 में चुनाव आयोजित किए गए.

Leave a Comment

Your email address will not be published.