सीमा मुद्दे पर भारत और चीन के बीच वार्ता का 19वां दौर संपन्न

388_04_03_54_indo_china_border_759सीमा मुद्दे पर भारत और चीन के बीच वार्ता का 19वां  दौर

20 अप्रैल 2016 को बीजिंग में सीमा मुद्दे पर भारत और चीन के बीच वार्ता का 19वां  दौर  संपन्न हुआ. भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल एवं चीन के स्टेट काउंसलर  यांग जिएची के बीच यह वार्ता हुई.

सीमा वार्ता के 19वें दौर के मुख्य आकर्षण

• दोनों प्रतिनिधि शांतिपूर्ण तरीके से समस्याग्रस्त सीमा विवाद को सुलझा लेने और एक निष्पक्ष, उचित और परस्पर समाधान तक पहुँचने के लिए सहमत हुए.

• दोनों प्रतिनिधियों ने दोनों देशो के बीच 3884 किलोमीटर लम्बी सीमा विवाद को शांतिपूर्ण ढंग से सुलझाने की वकालत की.

• सीमा विवाद के अलावा, डोभाल और यांग ने सभी विवादास्पद द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मामलों पर भी चर्चा की.

भारत और चीन के बीच सीमा मुद्दे को हल करने के लिए हस्ताक्षर : टाइमलाइन

1993: भारत और चीन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शांति बनाए रखने के लिए 7 सितम्बर 1993 का समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए गए.

1996: 29 नवंबर 1996 को भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैन्य क्षेत्र में विश्वास बहाली के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए गए.

2003: 23 जून 2003 को भारत और चीन के बीच व्यापक सहयोग के लिए हस्ताक्षर किए गए.

2013: 23 अक्टूबर 2013 को सीमा रक्षा सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किए गए.

द्विपक्षीय संबंधों में व्यापक तेजी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के 2014 के भारत दौरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2015 के चीन के दौरे के बाद आई है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.