कृषि संकट की वास्तविकता

मुद्दा : कृषि संकट की वास्तविकता किसानों की आत्महत्या के लिए गिनाए जाने वाले प्रचलित कारणों को खारिज कर रहे हैं देविंदर शर्मा कृषि अर्थशास्त्री हमेशा कृषि आय में बढ़ोतरी के लिए फसल उत्पादन में वृद्धि के पक्ष में रहे हैं। कुछ अर्थशाष्त्री कृषि संकट के लिए कम उत्पादकता को दोष देते हैं। हम प्राय: कहते […]

Read more

Government Must help in Judicial Reform(न्यायिक सुधार में सरकार का सहयोग जरूरी : पी. चिदंबरम)

न्यायिक सुधार में सरकार का सहयोग जरूरी : पी. चिदंबरम न्यायिक तंत्र चरमरा रहा है, किसी भी अदालत के किसी जज या वकील से पूछें, और वे आपको बताएंगे कि चेहरे पर ओढ़ी हुई मुस्कान वास्तविक नहीं है। आंकड़े कहानी बयान करते हैं। आंकड़े उच्च न्यायालयों के 1056 स्वीकृत पदों में से केवल 592 पदों पर […]

Read more

स्टारशॉट प्रोजेक्ट(STAR SHOT PROJECT) : ब्रम्हांड की यात्रा

स्टारशॉट प्रोजेक्ट से ब्रम्हांड की यात्रा  अंतरिक्ष के अन्वेषण के लिए एक अत्यंत महत्वाकांक्षी योजना बनाई गई है, जिसके तहत ब्रम्हांड के सुदूर हिस्सों में सूक्ष्म यान भेजे जाएंगे। यूरी मिलनर और मार्क जुकरबर्ग जैसे दुनिया के खरबपति उद्यमी इस योजना के लिए धन देना चाहते हैं। जानेमाने भौतिकविद् प्रोफेसर स्टीफन हॉकिंग सहित अनेक वैज्ञानिक इसका […]

Read more

Cold Start Doctrine (कोल्ड स्टार्ट सिद्धांत)

भारत का कोई ‘कोल्ड स्टार्ट’ सिद्धांत नहीं भारत के सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने कहा कि भारत का कोई ‘कोल्ड स्टार्ट’ सिद्धांत नहीं है जैसा कि गोपनीय अमेरिकी दस्तावेजों में दावा किया गया है। उन्होंने भारतीय सेना के ‘धीमा और बेकार’ होने की अमेरिकी धारणा को भी खारिज किया। विकीलीक्स के खुलासे में किए […]

Read more

मुद्दा -“Need Of Reformation In Bureaucracy”

ब्यूरोक्रेसी में सुधार की जरूरत : भारत (ETHICS) हमारी नौकरशाही में सुधार के मुद्दे पर चर्चा किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाती, क्योंकि यह चर्चा सरलतम मान्यताओं पर टिकी होती है. विडंबना यह कि चर्चा में ज्‍यादातर ध्यान अति लालफीताशाही पर दिया जाता है, जिसमें भ्रष्टाचार मुख्य मुद्दा होता है, लेकिन कार्यक्षमता के मुद्दे पर […]

Read more

विलुप्त होती प्रजातियां और कारण

भारत के सन्दर्भ में  : विलुप्त होती प्रजातियां और कारण भारत अपनी सम्‍पन्‍न जैव विविधता के लिए जाना जाता है। देश के दस भौगोलिक क्षेत्रों में 91,000 से ज्यादा पशुओं की प्रजातियां और 46,000 पादप प्राजातियां पहले से दर्ज है। करीब 65,000 देशीय पौधे अभी तक स्वास्थ्य की देखभाल से संबध्द स्वदेशी प्रणालियों में इस्तेमाल किए […]

Read more

द हिन्दू “SOUNDING THE SMOKE” (हिंदी अनुवाद)

THE HINDU – “SOUNDING THE SMOKE” (FOR ENGLISH CLICK) तंबाकू सेवन के खतरों के प्रति जनचेतना आवश्यक किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम, 2015 के कारण भारत की तंबाकू कंपनियों द्वारा 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों को तंबाकू की ओर लुभाने पर कुछ अंकुश लगा है, अधिनियम के  अनुसार कोई भी […]

Read more

मुद्दा -“केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड : सेंसर बोर्ड में सुधार की पहल”

प्रश्न : आधुनिकीकरण के युग में केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड द्वारा फिल्मो को सेंसरशिप के विभिन्न श्रेणियों में वर्गीकरण करना क्या आधुनिक समाज एवं आधुनिक शिक्षा की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करने जैसा है ?क्या सही मायने में सेंसर बोर्ड ने अपनी महती भूमिका का निर्वहन किया है ? क्या बोर्ड ने वास्तविक मूल्यों को प्राप्त कर […]

Read more

तीसरी दुनिया के सन्दर्भ में भारत और यूरोपीय यूनियन के सम्बन्ध

निर्विवाद तौर पर भारत को रणनीतिक साझेदार मानता है यूरोपीय संघ बदलते वैश्विक माहौल में अपनी राजनीतिक प्रासंगिकता हासिल करने में नए सिरे से जुटा यूरोपीय संघ भारत को निर्विवाद तौर पर अपना एक अहम रणनीतिक साङोदार देश मान रहा है। विश्व पटल पर भारत की मजबूत हो रही छवि की वजह से यूरोपीय संघ […]

Read more

द हिन्दू “Going against the grain” (हिंदी अनुवाद)

ग्रामीण अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार की आवश्यकता हाल ही में जारी एक रिपोर्ट के अनुसार भारत चीन को पछाड़ते हुए जीडीपी में वृद्धि के मामले में विश्व की सबसे तेज़ उभरती अर्थव्यवस्था बन गया है यह अतिश्योक्ति नहीं होगी किन्तु हमें एक बार चिंतन  करना चाहिए कि हमारी 80 करोड़ से ज्यादा की आबादी जो गांव […]

Read more
  • 1
  • 2
  • 8