Gist of “The Hindu”(weekly-1 jan to 7 jan)

Gist-of-The-HinduBEIJING’S RACE FOR EURASIAN HEARTLAND

  • यह सही है कि कुछ अशांति व हिंसा पश्चिम एशिया में लगातार हो रहे हैं तथा यह पूरे विश्व के समीकरण पर असर डाल रही है विशेषत‌‍ः यूरोप में कुछ अन्य घटना भी असर डाल रही है, जैसे चीन का बराक ओबामा प्रशासन के प्रत्युत्तर में एशिया में केंद्र बिंदु बनना I
  • वहीं यह भी महत्वपूर्ण हो गया है कि बीजिंग अपने रिश्तो को मास्को से 2015 से लगातार मजबूत करने में लगा हुआ है I यह दोनों स्थापित परमाणु संपन्न देशों के मध्य सामाजिक समझौते इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह विश्व के एक ध्रुवीय शक्ति से बहुध्रुवीय व्यवस्था में बदलने की शुरुआत हैI
  • 2015 साल के अंत तक चीन विश्व की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है वह अमेरिका को एवं उसके एकल वर्चस्व को चुनौती देने की तैयारी में है I
  • प्रशांत महासागर को घेरने व उसे नियंत्रित करने के लिए (रूस चीन के हथियारों का मुख्य निर्माणकर्ता है) बीजिंग में रूस से s-400 हवाई रक्षा डील की, फाइटर जेट, आदि खरीदे गएI इस s-400 मिसाइल को चीन अपने कृत्रित् द्वीप जो की दक्षिण चीन सागर में है, पर तैनात करेगा I रूस (50-35) फाइटर जेट भी चीन को देगा I
  • ऊर्जा क्षेत्र में रूस से अनेकों सहयोग प्राप्त होने से इन देशों के रिश्ते और प्रगाढ़ हुए हैंI
  • कोयला बेल्ट के अतिदोहन को रोकने के लिए चीन अब स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा दे रहा है तथा इसके लिए प्राकृतिक गैस परमाणु उर्जा,नवीनीकरण ऊर्जा व अनेक अनुसंधान व प्रयोग जारी हैंI
  • वहीं रूस के पास उत्तरी क्षेत्र में अत्यधिक गैस व तेल के भंडार खोजे गए हैं तथा चीन से 400 मिलियन डॉलर का समझौता हुआ हैI चीन ने आर्थिक क्षेत्र एवं संबंध को मजबूत करने के लिए रूस के रूबल व चीन के युयान का आसान परिवर्तन समझौता किया I
  • चीन में पश्चिमी प्रभाव से प्रभावित बैंको से परे NBD ( ब्रिक्स संस्था का सहायक बैंक), AIIB( एशिया इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक) गठित किया तथा अपनी भूमिका को और मजबूत किया I
  • पश्चिमी देश अभी भी 2008 की आर्थिक मंदी से जकड़े हुए हैं वही चीन ने अपने लिए कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं –
    1. उच्च स्तर पर यूरेशिया में निवेश
    2. वन रोड वन बेल्ट, रेलवे निर्माण
  • इंडस्ट्रियल पार्क, साइबर शहरों का निर्माण सिल्क रोड का निर्माण आदि

 LOCATION TOO MATTERS FO GROWTH

  • विकास के लिए ज्यादा क्या महत्व रखता है अवस्थिति या समुदाय . नए सरकारी आंकड़ों के अनुसार लिंगानुपात व साक्षरता के मामले में जहां कुछ समुदाय अन्य से बेहतर है वही इन समुदायों में राज्य स्तर पर विभिन्नता भी उतनी महत्वपूर्ण है अर्थात राज्यवार समुदायों की साक्षरता व लिंगानुपात मामले में स्थिति अलग अलग है 
  • जनगणना विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय स्तर पर ईसाई व मुस्लिम समुदाय में शिशु लिंगानुपात सबसे बेहतर स्थिति में है जो क्रमशः 958/1000 और 943/1000 है . देश में निम्नतम शिशु लिंगानुपात सबसे कम बौद्ध समुदाय में तथा उसके बाद क्रमशः हिंदू, जैन व सिख समुदाय में है . वर्ष 2001 के मुकाबले जहां जैन व सिक्खों की लिंगानुपात स्थिति में सुधार हुआ है वही अन्य समुदायों में लिंगानुपात स्थिति बिगड़ी हैI यदि राज्यवार समुदायों की स्थिति को देखा जाए तो अलग-अलग राज्यों में एक ही समुदाय की स्थिति समान नहीं है अर्थात राज्यवार समुदायों की स्थिति अलग-अलग हैI बेहतर लिंगानुपात वाले राज्यो जिनमें दक्षिणी राज्यो तथा अधिक अनुसूचित जनजाति जनसंख्या वाले राज्य शामिल हैंI इन राज्यों में सभी समुदायों की स्थिति देश के अन्य राज्यों में इनही समुदायों की स्थिति से बेहतर है I
  • उदाहरण के लिए- केरल राज्य में हिंदु, मुस्लिम व क्रिशचयन समुदाय में 0-6 आयु वाले शिशु लिंगानुपात सभी समुदाय में समान है जो 965/1000 है जो की इन्हीं समुदाय के राष्ट्रीय औसत से अधिक हैI
  • हरियाणा में शिशु लिंगानुपात सबसे बुरी स्थिति में है और अन्य समुदायों जैसे सिख, हिंदू, क्रिशचयन तथा मुसलमानों समुदायों का औसत भी हरियाणा में देश में इन समुदायों के राष्ट्रीय औसत से कम हैI
  • मुस्लिम समुदाय के लिंगानुपात पर अवस्थित का कोई प्रभाव नहीं है वही क्रिशचयन समुदायों में शिशु लिंगानुपात हरियाणा, पंजाब व राजस्थान में 900/1000 से भी नीचे चला गया है और मुस्लिम समुदायों का शिशु लिंगानुपात केवल मुस्लिम बहुल राज्य जम्मू कश्मीर में ही कम है जो कि 910/1000 है I
  • अवस्थिति और समुदाय का साक्षरता पर भी प्रभाव समान रुप से पड़ा है अर्थात अवस्थिति व समुदाय ने जिस प्रकार लिंगानुपात को प्रभावित किया है इनका प्रभाव साक्षरता पर भी है I
  • यदि समुदायवार साक्षरता को देखा जाए तो मुस्लिम पुरुष व महिला साक्षरता देश में सबसे कम है वही जैन समुदाय में पुरुष-महिला साक्षरता सबसे अधिक है, यद्यपि केरल में मुस्लिम महिला साक्षरता 79% हैI

NDC TO BE SCRAPPED NITI AAYOG COUNCIL LIKELY TO GET ITS POWERS

  • योजना आयोग की समाप्ति के बाद नरेंद्र मोदी की सरकार ने राष्ट्रीय विकास परिषद(National Development Council) को भी समाप्त करने का प्रस्ताव मुख्यमंत्री सम्मलेन में जाहिर किया तथा इस परिषद के कार्य व शक्तियों को नीति आयोग में ही स्थांतरित की जाएगी तथा NDC समाप्त करने का प्रस्ताव जल्द ही जनवरी 2016 तक लाया जाएगा I

NAI MANJIL (बजट 2015 में घोषित)

  • अल्पसंख्यक समुदाय की शिक्षा व रोजगार अवसरों की बढ़ोतरी के लिए केंद्र सरकार व विश्व बैंक के मध्य 50 मिलियन डॉलर का सरकारी स्रोतों के मुताबिक ATUFS के तहत वर्ष 2021-22 तक 1 लाख करोड रुपए को आकर्षित किया जाएगा तथा 30 लाख रोजगार का सृजन होगाI( यह पहल मेक इन इंडिया को प्रेरित करेगी) समझौता हुआ I
  • यह समझौता केंद्र सरकार की चल रही योजना नई मंजिल के लिए हुआ हैI
  • नई मंजिल समग्र शिक्षा, रोजगार अवसर, कौशल विकास को अल्पसंख्यक वर्गों के लिए उपलब्ध करवाता तथा उन्हें प्रशिक्षण व्यवस्था भी प्रदान करना I

 

 BJP IN SOUP AS ANIMAL WELFARE BOARD OPPOSE JALLIKATTU REVIVAL

  • सरकार के सर्वोच्च विधिक अधिकारी मुकुल रोहतगी (महान्यायवादी) के द्वारा सरकार को सलाह दी गई है कि वे तमिलनाडु के जल्लीकट्टू से प्रतिबंध न हटाए I
  • ANIMAL RIGHT ACTIVIST के विरोध के बावजूद सरकार द्वारा मध्य जनवरी में कुछ समय के लिए जल्लीकट्टू पर से प्रतिबंध को हटाया गया I
  • पर्यावरण मंत्रालय का यह निर्णय वर्ष 2014 के सुप्रीम कोर्ट के उस निर्णय का उल्लंघन होगा जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्णय दिया था कि बैल कोई प्रदर्शनकारी जीव (पशु) नहीं है जिसे बैलगाड़ी प्रतियोगिता या जल्लीकट्टू जैसी अन्य किसी प्रतिस्पर्धा में तमिलनाडु, महाराष्ट्र या अन्य किसी राज्य में इस्तेमाल किया जाएI
  • AWBI(Animal welfare board of India) के अनुसार भी सरकार द्वारा जल्लीकट्टू के आयोजन की अनुमति देना सर्वोच्च न्यायालय के निर्णयन का तथा prevention of cruelty to animal act का उलंघन हैI

    जल्लीकट्टू

  • जल्लीकट्टू तमिलनाडु में पोंगल उत्सव के अवसर पर बैल को नियंत्रित करने का त्यौहार हैI यह तमिलनाडु की परंपरा है जिसे संगम साहित्य में yeru thazhuvuthal (बेल को गले लगाना) कहा गया हैI इस उत्सव सभी जातियां भाग लेती है I जल्लीकट्टू उत्सव में भाग लेने वाले बैल pulikulam breed से संबंधित हैI

LODHA COMMITTEE REPORT TO FOCUS ON PURITY OF GAME

  • लोढ़ा कमेटी 4 जनवरी को क्रिकेट के प्रशासन में गंदगी (भ्रष्टाचार) की सफाई के संदर्भ में सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी
  • जनवरी 2015-

 ज्ञातव्य है सुप्रीम कोर्ट द्वारा एन. श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन और राज कुंद्रा IPL में बाजी लगाना (Betting)के प्रमाण तथा सुप्रीम कोर्ट जस्टिस आर एम लोढ़ा के अधीन एक कमेटी का गठन किया गयाI

कार्य जो कमेटी को सौंपा गया-

  • मयप्पन, कुंद्रा व IPL फ्रेंचाइजी के लिए प्रतिबंधों का विनिर्धारण करनाI
  • बीसीसीआई चुनाव वा हित संघर्ष के संदर्भ में मैकेनिज्म का निर्धारण जुलाई 2015
  • मयप्पन व कुंद्रा को आजीवन प्रतिबंधित किया गया
  • दो IPL फ्रेंचाईजी चेन्नई सुपर किंग्स एवं राजस्थान रॉयल्स पर 2 वर्ष का प्रतिबंध

 FALL IN EXPORT PROJECTEDTO BE WORST SINCE 1952-53

  • सरकार के उच्च स्तरीय सूत्रों के अनुसार गत वित्तीय वर्ष में उत्पादों के निर्यात में 14 % की गिरावट आई जो वर्ष 1952-53 के बाद सबसे बड़ी गिरावट हैI
  • वर्ष 1952-53 में यह गिरावट -7% थीI

कारण-

  • उत्पादों के मूल्यों में गिरावट
  • कुछ देशो द्वारा अपनी मुद्रा का अवमूल्यन करना
  • विदेशों में कमजोर मांग
  • मुद्रा का विचलन
  • निर्यात क्षेत्रों को ब्याज पर दी जाने वाली आर्थिक सहायता में देरी
  • लेन-देन उच्च लागत

 

E-COMMERCE INDUSTRY TO CROSS $ 38 BILLION THIS YEAR ASSOCHAM

  • Assocham (Associated chambers of commerce and industry) के अनुसार वर्ष 2016 ई-कॉमर्स व्यापार वर्ष 2015 की तुलना में 67% ज्यादा होकर 38 बिलियन डॉलर हो जाएगाI
  • ज्ञातव्य है वर्ष 2015 में ई-कॉमर्स व्यापार 23 बिलियन डॉलर रहा

कारण है वृद्धि के

  • इंटरनेट तथा मोबाइल सेवाओं का बढ़ता उपयोग I ग्राहक स्मार्टफोन, टैबलेट और अन्य डिवाइस के बढ़ते इस्तेमाल ने ऑनलाइन खरीदारी को बढ़ावा दिया I
  • ऑनलाइन भुगतान की ग्राहकों के बीच बढती विश्वसनीयताI
  • भारत का अनुकूल जनांनकीय लाभांश I

ऑनलाइन खरीदार-

  • 45% ऑनलाइन खरीदार कैश ऑन डिलिवरी तरीके को अपनाते हैंI
  • 16% credit card
  • 21% debit card
  • 10% net banking
  • 7% cash cards,mobile wallets

 

ANNUAL SOLAR POWER CAPACITY TO QUADRUPLE NEXT FISCAL YEAR

  • कोयला शक्ति तथा नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन अगले वित्तीय वर्ष 2017 में बढ़कर 4 गुना हो जाएगाI
  • मंत्रालय के अनुसार वर्तमान में भारत की सौर ऊर्जा क्षमता 4500 mw है जिसके वर्ष 2016-17 में 12000 mw होने की संभावना है यदि इसमें अन्य नवीकरणीय ऊर्जा विकल्पों को जोड़ लिया जाए तो यह बढ़कर 15000 mw (2016-17) हो जाएगी I
  • मंत्रालय के अनुसार LED बल्ब के वितरण की गति तेजी से बढ़ रही है तथा EESL(Energy efficiency service limited) जो सार्वजनिक क्षेत्र की एक कंपनी है का वर्ष 2016 में 7 करोड़ LED बल्ब के वितरण का लक्ष्य हैI

DBT IN KEROSENE WELCOME BUT IMPLEMENTATION KEY: EXPERTS

  • विशेषज्ञों के अनुसार सरकार द्वारा केरोसिन सब्सिडी को सीधे लाभ प्राप्त कर्ता के खाते में ट्रांसफर कराने के कदम का पर्याप्त स्वागत किया गया है परंतु इस स्कीम का क्रियान्वयन महत्वपूर्ण मुद्दा हैI
  • विशेषज्ञों के अनुसार वर्तमान में केरोसिन सब्सिडी का 50% फायदा गैर लाभार्थी लोग उठा रहे हैं तथा DBT सब्सिडी को लक्षित कर सही लाभार्थी तक इसे पहुंचाएगाI

GOVERNMENT ELECTRIC 20% MORE VILLAGE

  • सरकार द्वारा गत वित्तीय वर्ष में शुरू की गई दीनदयाल उपाध्याय ग्राम योजना के कारण 20%और ग्राम विद्युत आपूर्ति प्राप्त करने लगे हैंI
  • ज्ञातव्य है वित्त वर्ष की शुरुआत में 18,452 ग्राम ऐसे थे जहां विद्युत आपूर्ति उपलब्ध नहीं थी तथा 2 जनवरी 2016 को इन ग्रामो की संख्या घटकर 14,796 रह गई हैI

NEW YEAR NEW PUBLIC HEALTH THREAT

 

  • दक्षिणी अमेरिका में ZIKA VIRUS जो एक मच्छरजनित वायरस है के कारण गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न हो गई है इस वायरस के कारण नवजात शिशुओं के सिर का आकार असामान्य रूप से छोटा होता हैI

ZIKA VIRUS-

  • इस वायरस का नाम Uganda के Zika जंगल के नाम पर पड़ा
  • इसकी सबसे पहले पहचान 1947 में Rhesus बंदर में की गई थी
  • यह वायरस एडिट एजिप्टी मच्छर (Adese aegypti) द्वारा संक्रमित होता है
  • ज्ञातव्य है एडीज इजिप्टी (Adese aegypti) मच्छर ही डेंगू व चिकनगुनिया का वाहक है

जीका का इलाज

Zika के इलाज की कोई दवाई वर्तमान में नहीं I मरीज को आराम, ज्यादा द्रव सेवन व बुखार की दवा द्वारा नियंत्रित किया जाता हैI

AIR IN INDIAN CITIES FOULER THAN IN BEISING

  • April, 2015 में शुरु किए गए Indians National Air Quality Index (AQI) पोर्टल द्वारा जारी किए AQI जो देश के 15 शहरों में प्रमुख प्रदूषको के आधार पर वायु की स्वच्छता का सूचकांक प्रस्तुत करता हैI
  • AQI के अनुसार भारत के शहरों की वायु बीजिंग से भी ज्यादा बुरी है I
  • उत्तर भारत के 6 प्रमुख नगरों की वायु (वाराणसी, दिल्ली, फरीदाबाद, आगरा, कानपुर, लखनऊ) की स्थिति बीजिंग से ज्यादा खराब है जबकि दक्षिण भारतीय नगरों की स्थिति उत्तर भारत की अपेक्षा तुलनात्मक रूप से बेहतर हैं I
  • प्रदूषक का मापन करने वाले स्पेशल स्टेशनों द्वारा 6 महत्वपूर्ण प्रदूषकों को मापा जाता है जो निम्न प्रकार है –

AQI के मापन का आधार-

  • AQI के मापन के लिए किसी भी स्टेशन द्वारा 3 प्रदूषकों का इस्तेमाल किया जाता है जिनमें PM(Particulate matter) एक होता है अर्थात तीन प्रदूषकों में से एक होना अनिवार्य है
  • AQI को पुनः 6 सेवाओं में बांटा जाता है-

Good, Satisfactory,Moderate, Poor,Very poor or Severe.

GOOD RESPONSE TO MSME REVIVAL PLAN

  • MSME(Micro small and medium enterprises) के संघीय मंत्री कलराज मिश्र के अनुसार MSME के “पुनरुत्थान और बहाली पैकेज” के कारण इनके प्रदर्शन में सुधार हुआ है

MSME  समस्या बदहाली के कारण-

  • MSME मालिकों को उच्च ब्याज दर पर ऋण प्राप्ति
  • मंत्रालय के अनुसार एक 1.13 लाख करोड़ के NPA में से 40,000 से 50,000 करोड रुपए का NPA MSME का ही है

 सुधार के प्रयास

  • सरकार द्वारा उद्यमियों के ज्ञापन के पूरा करने (भरने) की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए “Udyog Aadhar memorandum” की शुरूआत की गई

MSMEs-

  • Micro small and medium enterprises development Act-2006 के अनुसार
अचल संपत्ति में निवेश
विनिर्माण सेवा
Micro 25 लाख रूपए 10 लाख रूपए तक
Small 25 लाख से 5 करोंड़ 10 लाख से 2 करोंड़
Medium 5 करोंड़ से 10 करोंड़ 2     करोंड़ से 50 करोंड़

INDO-JAPAN JOINT NAVAL EXERCISE FORM JAN-12

  • भारत और जापान के तटरक्षक बलों के बीच ‘sahyog-Kaijin’ युद्धाभ्यास की शुरुआत बंगाल की खाड़ी में 12 जनवरी से होगी
  • ध्यातव्य है sahyog-Kaijin’ प्रत्येक 2 वर्ष में एक बार आयोजित किया जाता है (भारत जापान के बीच) तथा इसका आयोजन बारी-बारी से भारत जापान ने किया जाता है
  • वर्ष- 2014 में इसका आयोजन योकोहामा (जापान )में हुआ जिसमें भारत के ICGS Samudra Paherdar ने भाग लिया

SC-APOINTED LODHA COMMITTEE BATS FOR LEGALISING BETTING IN CRICKET

  • सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त लोढ़ा कमेटी ने बीसीसीआई में सुधार की अपनी अनुशंसाओ की रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंप दी है

 महत्वपूर्ण सिफारिशें

  • One state,one cricket body : एक राज्य में एक ही क्रिकेट संघ होगा तथा एक इकाई एक राज्य को प्रदर्शित करेगी तथा क्रिकेट संघ को वोट का अधिकार भी होगा
  • CEO-Run organisation: कमेटी में BCCI के प्रशासनिक व्यवस्था में पुनर्संरचना की बात कही तथा कहा कि बीसीसीआई में एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी होगा जो 9 सदस्य उच्च स्तरीय परिषद के प्रति उत्तरदाई होगा बीसीसीआई के इस उच्चस्तरीय परिषद में 9 सदस्य में से 5 सदस्य निर्वाचित होंगे, दो सदस्य प्लेयर एसोसिएशन से तथा एक महिला सदस्य होगी CEO को मदद करने के लिए 6 व्यवसायिक प्रबंधन होंगे तथा CEO की टीम व प्रबंधक उच्च स्तरीय कॉउंसिल के प्रति जिम्मेदार होंगे
  • Under RTI- पारदर्शिता को सुनिश्चित करने के लिए बीसीसीआई को आरटीआई के अधीन लाया जाए
  • Ethics Officer- कमेटी में हित संघर्ष के समाधान के (बोर्ड के अंदर) लिए एक एथिक्स ऑफिसर की नियुक्ति की बात की जो उच्च न्यायालय का भूतपूर्व न्यायाधीश हो
  • Electoral Officer- कमेटी ने बोर्ड में निर्वाचन को संपन्न कराने के लिए एक निर्वाचन अधिकारी की भी अनुशंसा की ,यह अधिकारी निर्वाचन से संबंधित सभी कार्य को देखेगा ,तथा वोटर लिस्ट की तैयारी, प्रशासन योग्यता निर्धारण से संबंधित विवाद आदि
  • Ombusdsman- कमेटी ने आंतरिक झगड़े के समाधान के लिए एक लोकायुक्त की भी सिफारिश की है यह लोकायुक्त स्वप्रेरणा से शिकायत प्राप्ति के द्वारा या सर्वोच्च काउंसिल के द्वारा शिकायत प्राप्त कर सकता है
  • Legalizing the betting- कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में क्रिकेट खिलाड़ी तथा बोर्ड के अधिकारियों को छोड़कर बाजी लगाने को कानून करार देने की बात कही ही है और कहां है कि पंजीकृत साइट पर बाजी लगाने की अनुमति मिलनी चाहिए
  • इसके अतिरिक्त कमेटी में अनुशंसा की है कि राज्य संघ को दिए गए अनुदान का समय समय पर निरीक्षण होना चाहिए

 RAIL REGULATOR TO SET FARES,ENSURE FAIR COMPETITION

  • रेलवे भाड़े तथा रेलवे अवसंरचनात्मक ढांचे में निजी निवेशकों को बराबरी का दर्जा देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा रेलवे अथॉरिटी की स्थापना का प्रस्ताव रखा गया है सरकार के प्रस्ताव के अनुसार प्रस्तावित RDAI (Rail development authority of India) का गठन शुरुआत में रेल मंत्रालय द्वारा कार्यकारी आदेश के द्वारा किया जाएगा जिससे कि गठन में संसदीय बाधा उत्पन्न न हो, ज्ञातव्य है कि Rail authority के गठन का प्रस्ताव रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा बजट 2015-16 में दिया गया
  • RDAI: प्रस्तावित अधिकरण रेलवे मंत्रालय के बाहर स्वतंत्र निकाय होगी

निधियन(फंडिंग)-

  • प्राधिकरण को संसद द्वारा पारित बजट के द्वारा निधि प्राप्त होगी, इसके अतिरिक्त प्राधिकरण को अन्य स्रोतों यथा –अधिनिर्णयत,दंड तथा अन्य स्रोतों से जिसकी व्यवस्था प्रस्तावित अधिनियम में की गई है से धन प्राप्ति का अधिकार होगा

प्राधिकरण द्वारा किए जाने वाले कार्य-

  • यात्री भाड़ा तथा मालभाड़ा का निर्धारण
  • निजी निवेशकों को रेलवे अवसंरचना में निवेश के समान अवसर उपलब्ध कराना
  • रेलवे की कार्य कुशलता तथा प्रदर्शन को बनाए रखना, रेलवे क्षेत्र से संबंधित सूचनाओ और आकड़ो को जारी करना
  • रेलवे की प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष लागतो यथा- पेंशन दायित्व , ऋण सेवाये, पुनःस्थानांतरण और पुनःनवीनीकरण तथा उत्पादक परिमापों का निर्धारण, मांग और आपूर्ति की बाजारी शक्तियां तथा भविष्य में प्राप्त होने वाले निवेश के आधार पर ही भाड़ा शुल्क का निर्धारण करना
  • इसके अतिरिक्त प्राधिकरण को गलत बाजारी तंत्र का इस्तेमाल करने वालों तथा रेलवे अधिकरण को नुकसान पहुंचाने वालों को दंडित करने का भी अधिकार होगा
  • वर्तमान में रेलगाड़ी का निर्धारण कौन करता है वर्तमान में केंद्र सरकार द्वारा रेल भाड़े का निर्धारण किया जाता है
  •  चर्चित व्यक्ति- अबिदाली नीमचवाला WIPRO ने अबिदाली नीमचवाला को अपना नया CEO नियुक्त किया

SNOWFLAKE CORAL, A SERIOUS THREAT TO BIODIVERSITY

 तिरुवंतपुरम तथा कन्याकुमारी में हिमलव प्रवाल की एक विदेशी आक्रमणकारी प्रजाति के कारण इन प्रदेश के समुद्री पारिस्थितिकी तंत्र को खतरा उत्पन्न हो गया है

SNOWFLAKE CORAL-

 स्नोफ्लैक-कोरल पश्चिमी अटलांटिक महासागर में उष्णकटिबंधीय प्रवाल है जो एक आक्रमणकारी प्रजाति के रूप में 1972 में हवाई में पहली बार प्रतिवेदित किया गया, इसके पश्चात इसका विस्तार ऑस्ट्रेलिया, थाईलैंड, इंडोनेशिया तथा फिलिपिंस में हुआ भारत में इसकी उपस्थिति अंडमान व निकोबार द्वीप समूह, कच्छ की खाड़ी तथा गोवा में दर्ज की गई

खतरे – प्रवाल, स्पंज, शैवाल आदि समुद्री जैव विविधता को बनाए रखने वाले जीवो के विनाश का खतरा

प्रवाल के बारे में  

  • प्रवाल उष्णकटिबंधीय समुद्र में पाया जाने वाला समुद्री जीव है जो अपनी 50 से चुने का उत्सर्जन करते हैं
  • इनकी उच्च विविधता के कारण इन्हें समुद्री वर्षावन कहा जाता है
  • इनकी वितरण समान्यत: 400 उत्तरी से 300 दक्षिणी अक्षांशों के मध्य पाया जाता है
  • वर्ष 1997 को प्रवाल वित्तीय वर्ष घोषित किया गया था

Comments (8)

  1. kapil charan
    Apr 30, 2016 at 3:14 pm

    Excellent work by Upscgetway for students like me….Thank you so much

  2. Ankita Jaiswal
    Apr 30, 2016 at 3:32 pm

    Great Sir pahli baar Hindi me itna aacha matter dekha

  3. Zubair Khan
    Apr 30, 2016 at 3:33 pm

    Thanks a lot

  4. rajendra
    May 01, 2016 at 4:07 am

    thank you very much upscgetway increase our knowledge

  5. Amit
    May 02, 2016 at 7:12 am

    Great work

  6. Amit
    May 02, 2016 at 1:42 pm

    Bahut badiya sir hindi medium ke students ko bahut fayda hoga pkka

  7. Amit
    May 05, 2016 at 10:41 am

    Tnx to upscgetway fo this work
    Keep going

  8. Despina Moniot
    Jul 05, 2016 at 5:17 am

    As a Newbie, I am permanently searching online for articles that can aid me. Thank you

Leave a Comment

Your email address will not be published.